बिहार में बेरहम पुलिस – उर्दू-टीईटी पास नौजवानों के साथ पुलिस की ऐसी बर्बरता जिसे देख..

1

बिहार की राजधानी पटना में कल शांतिपूर्वक मार्च कर रहे उर्दू टीईटी पास नौजवानों को पुलिस ने बेरहमी से दौड़ा दौड़ा मारा। नौजवानों के बदन पर लाठियों का निशान देख आपका भी सिर शर्म से झुक जाएगा। अपने ही देश के लड़कों पुलिस का ऐसा अत्याचार को किसी भी तरह जायज नही ठहराया जा सकता है।
लाठीचार्ज में घायल नौजवानों को पीएमसीएच अस्पताल में भेज दिया गया। बिहार में पुलिस की अभ्यर्थियों के प्रति ऐसी बर्बरता से साफ समझा जा सकता है कि भाजपा हो या जेडीयू की मिलीजुली सरकार में रोजगार मांगना किसी अपराध से कम नही।

 

क्या है पूरा मामला
बीते बुधवार को तीन बजे  अभ्यर्थियों का जत्था साइंस कॉलेज के पास राजभवन मार्च करने के लिए निकला था। वही पुलिस ने कहा कि राजभवन जाने से अभ्यर्थियों को रोक लिया गया। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज शुरू कर दिया। इसमें कई अभ्यर्थी जख्मी हो गए।

आपको बता दे उर्दू टीईटी ग्रेस पास संघ के प्रदेश अध्यक्ष मुफ्ती हसन रजा अमजदी ने कहा कि 2013 में उर्दू-बांग्ला स्पेशल टीईटी हुई थी। रिवाइज रिजल्ट जारी किया गया।मेरिट लिस्ट में नहीं आने पर 12,000 अभ्यर्थियों को फेल कर दिया गया। पिछले चार साल से धरना, रैली, भूख हड़ताल, प्रदर्शन आदि कर रहे हैं, लेकिन नतीजा सिफर है।

साभार- बोलता यूपी

1 COMMENT

  1. मुस्लिम भाइयो आपका इस्लाम मेरे हिंदुत्व से क्यो और कैसे ज्यादा महान है। इस बारे में क्या कोई स्वस्थ डिबेट कर सकता है। आप लोग छद्म हिन्दू नाम से id बनाकर हिन्दुओ में फेसबुक के माध्यम से क्यो फूट डाल रहे हो। यदि कोई स्वस्थ और बगैर गाली गलौच के डिबेट करना चाहे तो स्वागत है मेरे व्हाटसप नम्बर 9827032411
    यदि अपशब्दों का प्रयोग किया तो समझूंगा की आपने हार मान ली है। जो भी बहस को रेडी है स्वागत है।
    एक ओर बात की वो श्रीमद्भागवतगीता पड़कर आये और फिर कुरान भी समझकर पड़कर आये। उन 24 आयतों को छोड़कर जो कि गैर मुस्लिमों का कत्ल करने को जायज ठहराती है। जो कि बाद में मौलवीयो ने अपने फायदे के लिए उन्हें जोड़ा था।
    यदि आप कुरान और फिर श्रीमद्भागवत गीता पड़कर आये तो आप स्वस्थ बहस कर सकते है।
    में श्रीमद्भागवत गीता पड़ने का इसलिए बोल रहा हूँ क्योकि मेने भी कुरान शरीफ का हिंदी अनुवाद पड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here