अमेरिकी मीडिया ने ट्रम्प को चेताया- तुर्की से सम्बन्ध बिगाड़ना महंगा पड़ेगा ट्रम्प बाबू

0

अमेरिका और तुर्की में जबरदस्त जंग छिड़ी हुई है, कैसी जंग? हमने तो कोई मिसाइल गोला फूटता नहीं देखा? न ही कोई लड़ाकू विमान हमने देखा, तो फिर ये कैसी जंग है, जी हाँ ये जंग उससे भी कहीं ज्यादा बड़ी है, जंग एसी अगर हार गये तो मुल्क का मुल्क तबाह हो जायेगा, ये जंग मिसाइलो के भरोसे नहीं लड़ी जा रही.

एक तरफ डोनाल्ड ट्रंप हैं, जो डोलर के भरोसे जंग में कूद चुके हैं, दूसरी तरह एरदोगन हैं जिन्होंने कहा था, अगर तुम्हारे पास डोलर है तो हमारे साथ अल्लाह है, यानी वो अल्लाह के भरोसे जंग में उतर आये हैं. इस जंग में 5 दिन तक तो तुर्की को नुक्सान हुआ लेकिन छटे दिन से तुर्की की इकोनोमी मजबूत हो गयी, दुनिया ज्यादातर मुस्लिम मुल्क इस जंग में एरदोगन के साथ खड़े हैं, तुर्की भयंकर मंदी के दौर से गुजरता हुआ फिर वहीँ आ खड़ा हुआ, लेकिन अब अमेरिका के लिए बुरी खबर है.

तुर्की से रिश्ते ठीक कर लो वरना कीमत भारी चुकानी पड़ेगी CNN News USA की वार्निंग है अमेरिकी मीडिया सीएनएन ने अपनी वेबसाइट पर एक संपादकीय में मगरीब मुल्कों को खबरदार करते हुए कहा है कि तुर्की से रिश्ते की खराबी भारी कीमत देकर चुकानी पड़ेगी अमेरिकी मीडिया चैनल अमेरिका और तुर्की के रिश्ते में आई दरार के बारे में संपादकीय में लिखता है कि अब तुर्की अमेरिका पर भरोसा आंख बंद कर के नहीं करेगा और उसके साथ साझेदारी हर कदम फूंक-फूंक कर रखेगा.

CNN लिखता है कि बर्तानिया में चैट हिम हाउस के इंचार्ज तुर्की के माहिर ने लिखा है कि जिन के मुताबिक तुर्की मगरिब के बजाय रूस और यूरेशियाई देशों के साथ रिश्ते मजबूत करेगा और वह दिन दूर नहीं जब तुर्की नेटो को भी अलविदा कहते हुए यूरोपीय यूनियन से अपने कस्टम समझौते को भी खत्म कर देगा इस संपादकीय में यूरोपीय यूनियन को संबोधित करते हुए लिखा गया है कि तुर्की के साथ रिश्ते सुधारने की अमल को तेज करें वरना उन्हें महंगा पड़ेगा तुर्की की तरफ से अमेरिकी प्रोडक्ट पर टैक्स बढ़ाने को भी मुंहतोड़ जवाब करार दिया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here